Sunday, 19 July 2015

बारिश 

क्या होती है बारिश?

आकाश से टिप टिप टपकती चांदनी सी बूँदें,
और भीगी मिट्टी की सोंधी महक है बारिश,
काले बादलो के साये तले झाँकती झिलमिल अरुणिमा,
झूमते पेड़ों की लहलहाती पत्तियों की सरसराहट,
भीगे पंछियों का पंख झटकना, फड़फड़ाना,
और बिजली कड़कते ही बच्चे का डरकर माँ से लिपट जाना है बारिश.

क्या होती है बारिश?
                           Image courtesy: forum.chatdd.com

नदी-नालों में तैरती नन्ही मछलियाँ है बारिश,
और पानी से सराबोर नाली में तैरती कागज़ की नाव,
खिड़की से हाथ बाहर निकाले चुन्नू की तरबतर कमीज,
नहर के पानी में डुबकी लगाते नौजवानों की खिलखिलाहट,
घास में कीड़े-मकोड़े चुगती चुलबुली चिड़िया की चूँ चूँ,
और सूखे पेड़ों पे उगती नई कोपलों की उमंग भरी किलकारी है बारिश।
                                   Image courtesy: flickr.com

क्या होती है बारिश?

सवारी को मंज़िल तक सूखा पहुँचाते रिक्शावाले की अपने सूखे हाड़ को
छिदे हुए प्लास्टिक से ढकने की नाकाम कोशिश है बारिश,
किसानों के मुरझाये चेहरों की मुस्कान है बारिश,
चाक में बहती मिटटी के संग बहते कुम्हार के अरमान है बारिश,
छाते बनाने वालो के धंधे की शान है बारिश,
गरीब की खपरैली मड़ैया की टूटी छत से बहती अविरल धार है बारिश।

क्या होती है बारिश?

कोयले की आँच में भुनते भुट्टे की मीठी खुशबू ,
नई फसल का टखने भर पानी में रोपा हुआ धान है बारिश,
सरसों के तेल में डले मिर्ची-प्याज़ के पकौडे और
अदरक-इलायची वाली मसाला चाय है बारिश,
एक ही छाते तले सिमटते प्रेमी-युगल की उंगलियो की नर्म छुअन
और दिल में सुलगते अनूठे अहसास है बारिश।

क्या होती है बारिश?

बचपन की बिसराई यादों का यकायक फिर उमड़ आना है बारिश,
किसान के बच्चों की उम्मीद है बारिश,
नए नवेले ख्वाबों का राग है बारिश,
जाने कितने शायरों की नज़्म है बारिश,
प्यासी धरती की बिछड़ी सखी है बारिश,
समझ सके जो, उसके लिए जीवन का संगीत है बारिश,

दुनिया बनाने वाले की मेहर है बारिश!

No comments:

Post a Comment